चित्तोर का तीसरा साका

सिसक रही मेवाड़ धरा तुर्कों के अत्याचार तले ,अकबर विनाश बन कर आया संकल्प लिए चित्तौड़ जले , संख्या गणित सामन्तों ने, उदय और...

प्रताप के प्रण

जब कोई हिन्दू राजा अकबर म्लेच्छ के सामने नहीं खड़ा हो पाया ।जब अकबर म्लेच्छ हिन्दुओं को ही हिन्दुओं से लड़ाने मे सफल हो...

74 1/2 : अकबर का चित्तौड़ में नरसंहार

जब मेवाड़ के राणा उदय सिंह ने मेवाड़ की भूमि और अपने आत्मसम्मान को अकबर को समर्पित करने से मना कर दिया, तो अकबर ने अपनी महत्वाकांक्षा को पूरा करने के...

Previous Next
Close
Test Caption
Test Description goes like this