बिना किसी आधुनिक तकनीक के,
बिना किसी बड़ी बड़ी मशीनों के,
बिना किसी रोबोटिक यंत्रों के,
हमारे सनातन धर्म के महान पूर्वजों ने ऐसे ऐसे निर्माण करवाए है कि आज भी कोई उन्हें देखता है तो उसकी आँखें आश्चर्य से खुली की खुली रह जाती है।
जबकि आपको पता है कि मुगलों द्वारा अधिकतर निर्माणों को या तो ध्वस्त कर दिया गया या उन्हें खंडित कर दिया, इसके बावजूद भी ये निर्माण आज भी अपनी वैभवता को बनाए हुए है। आप सिर्फ कल्पना कीजिए कि यदि ये पूर्ण रूप से सही स्थिति में होते तो कितने वैभवशाली होते।
आज इस लेख में ऐसे ही कुछ महान निर्माणों के बारे में आपको जानकारी दी जाएगी :-

1. एलोरा की गुफाएं (औरंगाबाद, महाराष्ट्र)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1331049098066026496?s=19

2. उन्दावाली गुफा (विजयवाड़ा, आंध्रप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1334699907576340481?s=19

3. बटेश्वर मन्दिर (मध्यप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1336135363144761345?s=19

4. ओल्क्कन्ननेस्वरा मंदिर (महाबलिपुरम, तमिलनाडु)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1336506346078785536?s=19

5. लालाजी मंदिर (कालना, पश्चिम बंगाल)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1339035866480529408?s=19

6. मीनाक्षी मंदिर (मदुरै, तमिलनाडु)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1341931782715797505?s=19

7. दिलवाड़ा जैन मंदिर (राजस्थान)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1345548915253280770?s=19

8. सोमनाथ महादेव (गुजरात)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1346657365391601664?s=19

9. कुम्भलगढ़ किला (राजस्थान)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1350620800580141057?s=19

10. पावापुरी जल मंदिर (नालन्दा, बिहार)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1350983480587546625?s=19

11. रामटेक गढ़ मंदिर (महाराष्ट्र)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1354244970832683009?s=19

12. रामप्पा मंदिर (वारंगल, तेलंगाना)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1354970877721337856?s=19

13. पटेश्वर मंदिर एवं गुफाएं (सतारा, महाराष्ट्र)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1355689681493479428?s=19

14. बादामी गुफा मंदिर (कर्नाटक)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1356791713138765825?s=19

15. विद्याशंकरा मंदिर (श्रृंगेरी, कर्नाटक)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1357507045570838528?s=19

16. शत्रुंजय पहाड़ियां (पालीताणा, गुजरात)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1358604246971686914?s=19

17. रानी की वाव (पाटण, गुजरात)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1359688013748465664?s=19

18. कोपेश्वर मंदिर (कोल्हापुर, महाराष्ट्र)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1360416369020313605?s=19

19. मुरुदेश्वर मंदिर (कर्नाटक)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1360772232872566789?s=19

20. ओम्कारेश्वर ज्योतिर्लिंग (मध्यप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1371276619013369858?s=19

21. जागेश्वर धाम (अल्मोड़ा, उत्तराखंड)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1373457032645279750?s=19

22. चौसठ योगिनी मंदिर (मुरैना, मध्यप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1374543745207562247?s=19

23. महाकाली मंदिर (पावागढ़, गुजरात)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1375632697339510787?s=19

24. प्रेम मंदिर (वृंदावन, उत्तरप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1375987264681955333?s=19

25. माँ हरिसिद्ध मंदिर (उज्जैन, मध्यप्रदेश)
https://twitter.com/tnworldofficial/status/1377436822771482624?s=19

26. श्रीरंगनाथ स्वामी मंदिर (श्रीरंगम, तमिलनाडु)
https://twitter.com/ourtemples_/status/1379258767200509955?s=19

(वीडियो और जानकारी क्रेडिट :- द नैरेटिव मीडिया)

तो देखा आप सभी ने कि आखिर कितनी महान और वैभवशाली सनातन संस्कृति थी हमारी, जिस पर हम सभी को गर्व होना चाहिए। जिसमें ये तो मात्र स्थापत्यकला के कुछ उदाहरण मात्र है, यदि आप सनातन संस्कृति के ज्ञान, आविष्कार, जीवन पद्धति के उदाहरण देखेंगे तो आप जानेंगे कि विश्व में इससे ज्यादा वैज्ञानिक और समृद्ध संस्कृति इसके अलावा और कोई नही है। लेख श्रृंखला की अगली कड़ी में हम उन्ही उदाहरणों के बारे में पढ़ेंगे।
लेकिन इस देश का दुर्भाग्य ही मानिए कि इतनी महान वैभवशाली विरासत होने के बावजूद भी राजनीतिक स्वार्थों और वोटबैंक के चलते भारत की पहचान मात्र ताजमहल तक सीमित कर दी गयी।

हम सभी का ये दायित्व है कि हम हमारी महान सनातन संस्कृति का प्रचार प्रसार करे ताकि कोई भी हमारी संस्कृति पर गलत टिप्पणी ना कर सके।
जय श्री सनातन धर्म
🚩🚩🚩🚩🚩🚩

DISCLAIMER: The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carries the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text.