सनातन धर्म की श्रेष्ठता:”सभी धर्मों में श्रेष्ठ सनातन धर्म”

गणित में कोई भी संख्या..1 से 10 तक के सभी अंकों से.. से नहीं कट सकती, लेकिन इस.. विचित्र संख्या को देखियेगा..! संख्या:- 2520...

“श्री रामकृष्ण परमहंस जी” : जिन्होंने नरेंद्र नाम के बालक को बनाया “स्वामी विवेकानंद”

श्री रामकृष्ण परमहंस जी श्री रामकृष्ण परमहंस जी का जन्म १८ फरवरी १८३६ को कमरपुकुर भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में हुगली जिले के...

स्वामी विवेकानंद जयंती: एक युवा, जिसने साधु बनकर दुनिया को असली भारत की पहचान बताई।

12 जनवरी का दिन देश भर में युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिन स्वामी विवेकानंद जी को समर्पित हैं. आइए...

सरकार को हिन्दुओं के मंदिर चाहिए, तो वह सर्वप्रथम भारत को ‘हिन्दू राष्ट्र’ घोषित करे ! – एम. नागेश्‍वर राव, ‘सीबीआई’ के भूतपूर्व प्रभारी संचालक

‘आंध्र प्रदेश के मंदिरों पर आघातों का षड्यंत्र ?’ विषय पर विशेष संवाद !  वर्ष 2020 में आंध्र प्रदेश में मंदिरों में तोडफोड की 228 घटनाएं हुईं, ऐसा राज्य के पुलिस महासंचालक...

वैभवता से समृध्द सोमनाथ मंदिर के अस्तित्व की संघर्षमय गाथा।

सनातन संस्कृति विश्व की सबसे पुराणी सभ्यता है, जिसका गौरव देवी देवतावो के प्राचीन अलौकिक मंदिर है। हिंदु मंदिरो का इतिहास 10 हजार साल से भी पुराना राहा।

सनातन धर्म : विश्व का सबसे वैज्ञानिक धर्म

इतिहास की पुस्तकों में पढ़ाया जाता है कि सनातन धर्म में व्याप्त आडंबरों के विरोध में भक्ति आंदोलन शुरू हुआ था जबकि ये बात...

इतिहास से आजतक का हर पन्ना: अस्पृश्यता के कोफीन में आखिरी कील ठोकते नरेंद्र मोदी और नया भारत

चांडाल कन्या का यह वर्णन पढ़ कर अनेक प्रश्न पेदा होते है पहले तो यही कि फ़ाहियान के वर्णन से कितना भिन्न है? दूसरे एक बाण एक वात्सायन ब्राह्मण है। उसके द्वारा चांडाल बस्ती का ऐसा वर्णन कर चुकने के बाद चांडाल कन्या का ऐसा ऐश्वर्यशाली वर्णन करने में कुछ संकोच नहीं होता। क्या इस वर्णन का छुआछूत से जुड़ी प्रचंड घृणा की भावना से मेल बैठता है?

इन्हीं कारणों से मोदी जी ने भी कहा था कि वो 100% जैन हैं… जैन समुदाय संख्या में है कम लेकिन कार्यों में है दम!

जी हाँ, ये पंक्ति भारत के सबसे शिक्षित, शांत एवं अनुशासित समुदाय पर बिल्कुल सटीक बैठती है।वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर 2016...