“दीदी सू सू कब करती हैं?” क्रांतिकारी पत्रकारों के तीखे प्रश्नों ने किया पीके को निरुत्तर

सच्ची पत्रकारिता करना एक महान सेवा होती है। जिसमें आप किसी की सेवा करते हैं और बदले में वो आपकी सेवा करते हैं (2BHK)। ये ऐसी सेवा है जिसमें आपको सरकार से प्रश्न पूछना होता है। और सरकार से मतलब केवल मोदी और बीजेपी से है।

मिर्ज़ापुर-2 और बाद

हम लोग ओ.टी.टी. और वेब सीरीज़ पर चर्चा करते रहे और मिर्ज़ापुर का सीजन-2 भी आ गया। पिछली रात दसवाँ एपिसोड देख, सीजन-2 पूरा...

चीन में बनी अपनी ही सरकार को 15 मिनट में , सोफे वाले ट्रैक्टर पर चढ़कर आँख मार कर गिरा सकता हूँ : बौड़म युवराज

कांग्रेस को सिर्फ अपनी मारक भाषण क्षमता से गहरा नुकसान ,बल्कि कहा जाए राफेल जैसा अचूक निशाना लगाने का हुनर पाए हुए दिव्य ,...

हमारी खामोशी हमारी कमजोरी नहीं ,हमारा Naughtyपन है : बुधव ठाकुर

कंपनी का प्रचार आपका फ़ायदा | कहते हैं कि जब कोई काम किया जाता है तो उसे बताना दिखाना नहीं पड़ता कि उसे किया...

कोरोना को कुचल देगी महाराष्ट्र सरकार की ये नई एम्बुलेंस

महाराष्ट्र सरकार देश के उन सरकारों में से है जो महामारी कोरोना से निपटने के लिए एक से एक हाहाकारी निर्णय ले रही है...

दिल्ली दंगों की जाँच न करे दिल्ली पुलिस :प्रशांत भूषण

देश प्रेम से ओत प्रोत विख्यात राष्ट्रवादी अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने मांग की है की दिल्ली पुलिस से दिल्ली दंगों की जाँच का काम...