जो तटस्थ हैं, समय लिखेगा उनके भी अपराध !

अर्नब की गिरफ़्तारी और हमारी भयावह चुप्पी !! लोकतंत्र में मीडिया को चौथा स्तंभ माना जाता है। लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूती प्रदान करने में...

ओह! यह क्या हो गया कोरोना

वे मनुष्य थे, करते रहे सालों से पृथ्वी पर राज,सोचते थे सिर्फ अपने बारे मेंlसबसे उन्नत जीव है मनुष्य आज,किया उन्होंने अपने फायदे के...

चरसी बॉलीवुड

जैसी की आशंका थी और इस बात की भी पूरी संभावना थी कि देर सवेर ही सही , इस तरह की संदेहास्पद घटनाओं /दुर्घटनाओं...

सोए सिंह भारत के जागों

सोए सिंह भारत के जागोंमाता तुम्हें पुकार रहीखड़ी द्वार पर शत्रु सेनायुद्ध के लिए ललकार रही देख द्वार पर खड़ा है दुश्मनहमारे दुर्ग को...

लगता है किराए में रहते हैं वरना कौन अपना घर जलाता है

एक ऑनलाइन पोर्टल, उसमें किसी के शब्द मुस्लिम धर्म के लिए, और लोगों द्वारा शहर को जलाना| इस पूरी घटना को देखें तो दिखता...